कटघोरा में पानी के लिए त्राहि-माम, आधा किलोमीटर दूर से लाना पड़ता है पीने का पानी

नगर पालिका परिषद कटघोरा के वार्ड 07 महेशपुर रानी लक्ष्मीबाई नगर में लोगों को पीने के पानी के लिए भारी संघर्ष करना पड़ रहा है। इस वार्ड में पानी का कोई स्रोत नहीं होने के कारण लोग आधा किलोमीटर दूर स्थित ग्राम पंचायत रामपुर के कुएं से पानी लाने को मजबूर हैं।

May 27, 2024 - 21:47
कटघोरा में पानी के लिए त्राहि-माम, आधा किलोमीटर दूर से लाना पड़ता है पीने का पानी
कटघोरा में पानी के लिए त्राहि-माम, आधा किलोमीटर दूर से लाना पड़ता है पीने का पानी

कटघोरा /  समीर गुप्ता : नगर पालिका परिषद कटघोरा के वार्ड 07 महेशपुर रानी लक्ष्मीबाई नगर में लोगों को पीने के पानी के लिए भारी संघर्ष करना पड़ रहा है। इस वार्ड में पानी का कोई स्रोत नहीं होने के कारण लोग आधा किलोमीटर दूर स्थित ग्राम पंचायत रामपुर के कुएं से पानी लाने को मजबूर हैं।

यह काम उनके लिए बेहद खतरनाक है, क्योंकि उन्हें व्यस्त बायपास रोड को पार करना पड़ता है। हादसे का खतरा हमेशा बना रहता है, लेकिन पानी की तलाश में लोग अपनी जान जोखिम में डालने को मजबूर हैं।

यह भी पढ़े : कम समय में ज्यादा पैसा कमाने की लालच में युवक ने गंवाए लाखों रुपये, परिजनों ने थाने में दर्ज कराई शिकायत

नगर पालिका विफल:

इस वार्ड में पानी की समस्या के बावजूद नगर पालिका प्रशासन पूरी तरह से विफल रहा है। यहां कई बार बोर करवाए गए, लेकिन वे पानी नहीं उगल पाए। नतीजतन, लोगों को अपनी प्यास बुझाने के लिए दूर-दूर तक जाना पड़ता है।

लोगों की मांग:

इस विकट स्थिति से त्रस्त लोगों ने नगर पालिका और जिला प्रशासन से तत्काल कार्रवाई की मांग की है। उनका कहना है कि उन्हें पीने के पानी का स्थायी समाधान चाहिए, ताकि उन्हें इस तरह की परेशानी का सामना न करना पड़े।

यह भी पढ़े : बलरामपुर में शासकीय जमीन पर भूमाफियाओं का कब्जा, अधिकारियों की मिलीभगत!



BharatUpdateNews.Com पर देश की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. राष्ट्रीय और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

(Follow Bharat Update on GOOGLE NEWS and never miss an update!)

Bharat Update Follow Bharat Update for breaking news and latest stories.