हाथरस हादसे की घटना के साक्ष्य जुटाएगा आयोग : बृजेश श्रीवास्तव

हाईकोर्ट के सेवानिवृत्त न्यायमूर्ति बृजेश कुमार श्रीवास्तव को हाथरस हादसे की न्यायिक जांच के लिए गठित आयोग का अध्यक्ष बनाया गया है। उन्होंने कहा है कि आयोग ने अपने काम की शुरुआत गुरुवार से कर दी है।

Jul 5, 2024 - 09:35
हाथरस हादसे की घटना के साक्ष्य जुटाएगा आयोग : बृजेश श्रीवास्तव
हाथरस हादसे की घटना के साक्ष्य जुटाएगा आयोग : बृजेश श्रीवास्तव

लखनऊ : हाईकोर्ट के सेवानिवृत्त न्यायमूर्ति बृजेश कुमार श्रीवास्तव को हाथरस हादसे की न्यायिक जांच के लिए गठित आयोग का अध्यक्ष बनाया गया है। उन्होंने कहा है कि आयोग ने अपने काम की शुरुआत गुरुवार से कर दी है।

उन्होंने कहा कि आयोग को जांच के लिए जो भी समय मिला है, उसमें हम जांच को खत्म करने की कोशिश करेंगे। हम मौके पर गए नहीं हैं, हम एक-दो दिन में हाथरस जाएंगे। आयोग को जो काम मिला है, उसके तहत वे तथ्य जुटाएंगे। बृजेश श्रीवास्तव ने कहा कि, अभी हमारे पास कोई डॉक्यूमेंट नहीं है, जरूरत पड़ेगी तो हम सभी के बयान लेंगे, क्योंकि हमें सच्चाई पर जाना है। मीडियाकर्मियों की मदद लेने की आवश्यकता हुई तो वो वह भी ली जाएगी।

इस तरह से बृजेश श्रीवास्तव ने साफ कर दिया है कि आयोग पूरी घटना में मौके से तमाम साक्ष्य जुटाएगा। गुरुवार को आयोग ने हाथरस मामले में जांच के तहत बैठक कर ली है और इसके साथ ही जांच शुरू हो चुकी है। जांच टीम को महज दो महीने का समय दिया गया है और पूरी जांच करके रिपोर्ट सरकार को सौंपनी है।

हाथरस के दुखद हादसे जैसी घटनाओं की पुनरावृति ना हो, इसके लिए भी आयोग सुझाव देगा। हाथरस भगदड़ हादसे में हुई मौतों के लिए स्थानीय प्रशासन पर सवाल उठ रहे हैं। जिस जगह हादसा हुआ, वहां 80 हजार लोगों के जुटने की इजाजत प्रशासन द्वारा दी गई थी, लेकिन मौजूद लोगों की संख्या दोगुने से भी ज्यादा बताई गई है। ऐसे में आयोग इस बात की भी जांच करेगा कि जिला प्रशासन ने आयोजकों को किन शर्तों पर इस कार्यक्रम को करने की अनुमति दी थी। साथ ही ये भी तय किया जाएगा कि हाथरस का मामला महज एक दुर्घटना थी या इसके पीछे कोई सुनियोजित षड्यंत्र भी था।



BharatUpdateNews.Com पर देश की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. राष्ट्रीय और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

(Follow Bharat Update on GOOGLE NEWS and never miss an update!)

IANS डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ भारत अपडेट टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.