ऋषिकेश पहुंचे एसएसपी, एम्स वायरल वीडियो पर संज्ञान लेते हुए निरीक्षण किया, बताया पूरा सच

ऋषिकेश एम्स अस्पताल का एक वीडियो सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल हो रहा है। इसमें साफ दिखाई पड़ रहा है कैसे अस्पताल की चौथी मंजिल पर पुलिस की एक गाड़ी घुस गई। इस दौरान वार्ड में जिसने भी ये मंजर देखा, हर कोई हैरानी में पड़ गया। इसी मामले को लेकर आज देहरादून एसएसपी जांच के लिए खुद ऋषिकेश एम्स पहुंचे। उन्होंने एम्स अस्पताल के घटनास्थल का निरीक्षण किया वहीं एम्स के डायरेक्टर और सिक्योरिटी इंचार्ज से इस मामले को लेकर बातचीत भी की।

May 23, 2024 - 21:55
ऋषिकेश पहुंचे एसएसपी, एम्स वायरल वीडियो पर संज्ञान लेते हुए निरीक्षण किया, बताया पूरा सच
ऋषिकेश पहुंचे एसएसपी, एम्स वायरल वीडियो पर संज्ञान लेते हुए निरीक्षण किया, बताया पूरा सच

ऋषिकेश : ऋषिकेश एम्स अस्पताल का एक वीडियो सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल हो रहा है। इसमें साफ दिखाई पड़ रहा है कैसे अस्पताल की चौथी मंजिल पर पुलिस की एक गाड़ी घुस गई। इस दौरान वार्ड में जिसने भी ये मंजर देखा, हर कोई हैरानी में पड़ गया। इसी मामले को लेकर आज देहरादून एसएसपी जांच के लिए खुद ऋषिकेश एम्स पहुंचे।

उन्होंने एम्स अस्पताल के घटनास्थल का निरीक्षण किया वहीं एम्स के डायरेक्टर और सिक्योरिटी इंचार्ज से इस मामले को लेकर बातचीत भी की। प्राथमिक जांच में यह बात सामने आई कि वायरल वीडियो इमरजेंसी वार्ड का न होकर मरीजों के एडमिट से पहले रुकने के लिए बनाई गई वेटिंग गैलरी का है।

आपको बता दें, ये मामला 19 मई का बताया जा रहा है जब पीड़ित डॉक्टर ने पुलिस को लिखित तहरीर दी कि ऑपरेशन थिएटर के अंदर महिला डॉक्टर के साथ छेड़छाड़ हुई है। इसके बाद आरोपी की गिरफ्तारी की मांग को लेकर डॉक्टरों ने हड़ताल कर दी। इसी कारण आज एसपी देहरादून जांच के लिए खुद ऋषिकेश एम्स पहुंचे और उन्होंने घटनास्थल का निरीक्षण किया।

एम्स में निरीक्षण के बाद देहरादून एसएसपी अजय सिंह ने बताया कि पुलिस को छेड़छाड़ मामले में तहरीर दी गई थी और आरोपी के खिलाफ लगातार आक्रोश डॉक्टर्स के बीच दिखाई पड़ा। इसी बीच आरोपी साइकेट्रिस्ट वार्ड में एडमिट हो गया था और इसके विरोध में बाहर ढाई से तीन सौ लोग जमा हो गए। जिसके बाद पुलिस को जानकारी दी गई। जब पुलिस वहां पहुंची तो देखा कि वहां पर लोग आक्रोश में और पिटाई करने की आवेश में थे। पुलिस द्वारा बहुत समझाने के बाद भी जब वे नहीं माने तो एम्स एडमिनिस्ट्रेशन और सिक्योरिटी ऑफिसर द्वारा इमरजेंसी एग्जिट प्लान के तहत रैंप का प्रयोग कर गाड़ी ऊपर ले जाकर आरोपी को निकाला गया।

यह भी पढ़े : रांची : जिन मतदाताओं के पोलिंग बूथ दो किमी दूर, उनके लिए गाड़ी उपलब्ध कराएगा प्रशासन

वहीं एसएसपी ने बताया कि जो वीडियो वायरल हो रहा है वो कोई वार्ड नहीं है बल्कि वेटिंग एरिया है जहां सिक्योरिटी ने पुलिस की गाड़ी को गाइड किया। इसका कारण यह था कि कहीं डॉक्टर्स या नर्सिंग स्टाफ के बीच झगड़ा न हो। एसएसपी ने कहा कि उस वक्त परिस्थिति के हिसाब से जो भी किया गया वह ठीक किया गया।



BharatUpdateNews.Com पर देश की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. राष्ट्रीय और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

(Follow Bharat Update on GOOGLE NEWS and never miss an update!)

Bharat Update Follow Bharat Update for breaking news and latest stories.