शिक्षक की नौकरी छोड़कर राजनीति चुनी, अब बनेंगे ओडिशा के मुख्यमंत्री

आदिवासी नेता और क्योंझर से चार बार के विधायक मोहन चरण माझी ओडिशा के नए मुख्यमंत्री होंगे। राज्य में पहली बार भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सत्ता में आई है। भुवनेश्वर में पार्टी मुख्यालय में नवनिर्वाचित भाजपा विधायकों की बैठक के बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने घोषणा करते हुए बताया कि मोहन चरण माझी (52) को सर्वसम्मति से विधायक दल का नेता चुना गया है।

Jun 11, 2024 - 21:47
शिक्षक की नौकरी छोड़कर राजनीति चुनी, अब बनेंगे ओडिशा के मुख्यमंत्री
शिक्षक की नौकरी छोड़कर राजनीति चुनी, अब बनेंगे ओडिशा के मुख्यमंत्री

भुवनेश्वर : आदिवासी नेता और क्योंझर से चार बार के विधायक मोहन चरण माझी ओडिशा के नए मुख्यमंत्री होंगे। राज्य में पहली बार भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सत्ता में आई है। भुवनेश्वर में पार्टी मुख्यालय में नवनिर्वाचित भाजपा विधायकों की बैठक के बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने घोषणा करते हुए बताया कि मोहन चरण माझी (52) को सर्वसम्मति से विधायक दल का नेता चुना गया है।

 इसी के साथ उनका मुख्यमंत्री बनने का रास्ता साफ हो गया। जब मुख्यमंत्री पद के लिए माझी का नाम प्रस्तावित किया गया, तो विधायक सुरमा पाढ़ी, लक्ष्मण बाग, रवि नारायण नायक और पृथ्वीराज हरिचंदन ने प्रस्ताव का समर्थन किया। इस पर अन्य विधायकों ने भी समर्थन दिखाया। राजनाथ सिंह ने एक्स अकाउंट पर पोस्ट किया, "यह घोषणा करते हुए खुशी हो रही है कि मोहन चरण माझी को सर्वसम्मति से ओडिशा भाजपा विधायक दल का नेता चुना गया है।

वह एक युवा और जुझारू पार्टी कार्यकर्ता हैं जो ओडिशा के नए मुख्यमंत्री के रूप में राज्य को प्रगति और समृद्धि के रास्ते पर ले जाएंगे। उन्हें बहुत-बहुत बधाई।" राजनाथ सिंह ने आगे कहा कि यह भी फैसला लिया गया है कि नई राज्य सरकार का नेतृत्व करने के लिए दो उपमुख्यमंत्री नामित किए जाएंगे। केवी सिंह देव और पार्वती परिदा उपमुख्यमंत्री के रूप में राज्य की सेवा करेंगी। उन्हें बधाई! मोहन चरण माझी चार बार के भाजपा विधायक हैं। वे पहली बार 2000 में क्योंझर से ओडिशा विधानसभा के लिए चुने गए थे।

इसके बाद 2004, 2019 और अब 2024 में भी क्योंझर सीट से जीते हैं। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की शैक्षणिक इकाई सरस्वती शिशु मंदिर से शिक्षक की नौकरी शुरू करने वाले माझी ने बाद में राजनीति को चुना। मोहन चरण माझी ने अपने राजनीतिक सफर की शुरुआत 1997 में की थी। माझी 1997 से लेकर साल 2000 तक सरपंच रहे। इसके बाद साल 2000 में माझी क्योंझर से पहली बार विधायक बने। माझी राज्य में भाजपा के आदिवासी नेताओं में से एक हैं। माझी ने 2005 से 2009 तक बीजद-भाजपा गठबंधन सरकार के दौरान भाजपा के राज्य आदिवासी मोर्चा के सचिव और उप मुख्य सचेतक के रूप में भी काम किया था। उन्होंने पिछली विधानसभा में पार्टी के मुख्य सचेतक के रूप में भी काम किया था। माझी ने मुख्यमंत्री के रूप में अपने नाम की घोषणा के बाद भगवान जगन्नाथ को नमन किया और ओडिशा की सत्ता में बदलाव लाने वाले 4.5 करोड़ लोगों का आभार जताया।

 माझी ने ओडिशा में पहली भाजपा सरकार के गठन को सुनिश्चित करने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी, केंद्रीय पर्यवेक्षकों राजनाथ सिंह, भूपेंद्र यादव और राज्य भाजपा प्रमुख मनमोहन सामल के प्रति आभार व्यक्त किया। छह बार के विधायक और पूर्व मंत्री केवी सिंह देव ने कहा कि भाजपा सरकार चुनाव के दौरान पार्टी की तरफ से किए गए वादों को पूरा करने के लिए सभी जरूरी कदम उठाएगी। मनोनीत मुख्यमंत्री मोहन चरण माझी, केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह, धर्मेंद्र प्रधान और अश्विनी वैष्णव के नेतृत्व में भाजपा विधायकों के एक प्रतिनिधिमंडल ने राज्यपाल रघुबर दास से मुलाकात की और उन्हें 78 भाजपा विधायकों की सूची और तीन अन्य निर्दलीय विधायकों के समर्थन पत्र भी सौंपे। मोहन चरण माझी अपने मंत्रिपरिषद के साथ बुधवार को जनता मैदान में शाम 4.45 बजे मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। राज्य भाजपा प्रमुख ने ओडिशा के लोगों से बुधवार को अपने-अपने घरों में दो मिट्टी के दीपक जलाकर शपथ ग्रहण समारोह मनाने का आग्रह किया है। -



BharatUpdateNews.Com पर देश की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. राष्ट्रीय और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

(Follow Bharat Update on GOOGLE NEWS and never miss an update!)

Bharat Update Bharat Update is a platform where you find comprehensive coverage and up-to-the-minute news, feature stories and videos across multiple platform. Email: digital@bharatupdatenews.com