राजकोट आग हादसा : मरने वालों की संख्या 26 हुई, राष्‍ट्रपति, प्रधानमंत्री, गृहमंत्री ने दुख जताया

गुजरात के राजकोट में शनिवार को एक गेमिंग जोन में भीषण आग लगने से 12 बच्चों सहित कम से कम 26 लोगों की मौत हो गई। शॉपिंग मॉल में गेमिंग जोन के अंदर उस समय आग लग गई, जब मॉल बच्चों से भरा हुआ था। आग पर काबू पाने के लिए पुलिस टीमें और दमकल की गाड़ियां मौके पर भेजी गईं। सूत्रों ने बताया कि गेमिंग जोन के मालिक को गिरफ्तार कर लिया गया है।

May 26, 2024 - 07:17
राजकोट आग हादसा : मरने वालों की संख्या 26 हुई, राष्‍ट्रपति, प्रधानमंत्री, गृहमंत्री ने दुख जताया
राजकोट आग हादसा : मरने वालों की संख्या 26 हुई, राष्‍ट्रपति, प्रधानमंत्री, गृहमंत्री ने दुख जताया

नई दिल्ली/राजकोट : गुजरात के राजकोट में शनिवार को एक गेमिंग जोन में भीषण आग लगने से 12 बच्चों सहित कम से कम 26 लोगों की मौत हो गई। शॉपिंग मॉल में गेमिंग जोन के अंदर उस समय आग लग गई, जब मॉल बच्चों से भरा हुआ था। आग पर काबू पाने के लिए पुलिस टीमें और दमकल की गाड़ियां मौके पर भेजी गईं। सूत्रों ने बताया कि गेमिंग जोन के मालिक को गिरफ्तार कर लिया गया है।

 सप्ताहांत के कारण शॉपिंग मॉल में भीड़ उमड़ पड़ी। आग की तीव्रता इतनी भीषण थी कि काफी दूर से शॉपिंग मॉल से धुआं निकलता देखा गया। माना जा रहा है कि कुछ लोग गेमिंग जोन के अंदर फंसे हुए हैं, जहां बचाव अभियान जोरों पर है। प्रत्यक्षदर्शी के मुताबिक, आग माॅल के निचले हिस्से में लगी थी। पूरे हॉल में धुआं ही धुआं हो गया। उस समय करीब 60 लोग मौजूद थे।

जीवित बाहर निकले एक लड़के ने इस पूरे प्रकरण की कहानी बयां की। उसने बताया कि एग्जिट का कोई विकल्प नहीं था। माॅल के जितने कर्मचारी थे, वे आग लगते ही भाग गए। जो मौजूद लोग थे, उनको निललने का रास्ता नहीं मिला। अभी भी कई लोग लापता हैं। माॅल के कर्मचारी आग लगते ही सबसे पहले भाग गए। कोई निकालने वाला मौजूद नहीं था हादसे की जांच के लिए स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम बनाई गई। प्राथमिक जानकारी के मुताबिक, गेम जोन के संचालक ने फायर डिपार्टमेंट से एनओसी नहीं ली थी।

राष्‍ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने इस हादसे पर दुख प्रकट करते हुए कहा, “मैं राजकोट के गेमिंग जोन में आग लगने और इसमें कई लोगों की जान जाने की खबर पाकर बहुत दुखी हूं। मैं उन परिवारों के प्रति गहरी संवेदना प्रकट करती हूं, जिन्‍होंने अपने बच्‍चे गंवाए हैं। जो लोग घायल हुए हैं, उनके जल्‍द स्‍वस्‍थ होने की ईश्‍वर से प्रार्थना करती हूं।“

इस घटना पर दुख व्यक्त करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक्स पर एक पोस्ट में कहा : “राजकोट में आग दुर्घटना से बेहद व्यथित हूं। मेरी संवेदनाएं उन सभी के साथ हैं, जिन्होंने अपने प्रियजनों को खोया है। घायलों के लिए प्रार्थना। स्थानीय प्रशासन प्रभावित लोगों को हर संभव सहायता प्रदान करने के लिए काम कर रहा है।” प्रधानमंत्री ने एक अन्य पोस्ट में कहा, “राजकोट में आग की त्रासदी ने हम सभी को दुखी किया है।

थोड़ी देर पहले उनके साथ टेलीफोन पर हुई बातचीत में गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्रभाई पटेल जी ने मुझे प्रभावित लोगों को हर संभव सहायता प्रदान करने के लिए चल रहे प्रयासों के बारे में बताया।”

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा, "राजकोट (गुजरात) के गेम जोन में हुई दुर्घटना से मुझे गहरा दुख हुआ है। मैंने मुख्यमंत्री श्री भूपेंद्रभाई पटेल जी से बात की है और इस दुर्घटना के संबंध में जानकारी प्राप्त की है।" "प्रशासन राहत एवं बचाव कार्य के लिए हर संभव प्रयास कर रहा है और घायलों को इलाज मुहैया करा रहा है। मैं इस दुखद दुर्घटना में अपने प्रियजनों को खोने वाले लोगों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं।"

घटना पर शोक जताते हुए कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने एक्स पर एक पोस्ट में कहा, ''गुजरात के राजकोट में एक मॉल के गेमिंग जोन में भीषण आग लगने से मासूम बच्चों समेत कई लोगों की मौत की खबर बेहद दर्दनाक है। सभी शोक संतप्त परिवारों के प्रति मेरी गहरी संवेदनाएं। मैं आशा करता हूं कि सभी घायल यथाशीघ्र ठीक हो जाएं।"

इस बीच, गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने अधिकारियों को बचाव अभियान को प्राथमिकता देने और घायलों के लिए तत्काल इलाज सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है। उन्‍होंने कहा, "राजकोट में गेम जोन में आग लगने की घटना में नगर निगम और प्रशासन को तत्काल बचाव और राहत कार्यों के निर्देश दिए गए हैं। घायलों के तत्काल इलाज की व्यवस्था को प्राथमिकता देने के निर्देश भी जारी किए गए हैं।"

मुख्‍यमंत्री ने कहा, "मैं शोकाकुल परिवार के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करता हूं और ईश्‍वर से दिवंगत आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना करता हूं। राजकोट-टीआरपी गेम जोन में आग लगने का मामला राज्य सरकार राजकोट में एक विशेष आरोग्य टीम भेजेगी। जले हुए शवों की तत्काल पहचान के लिए डीएनए टेस्‍ट कराई जाएगी। 

इसके लिए विशेष टीम भेजी जाएगी।" मुख्यमंत्री ने दुर्घटना के बाद गुजरात के सारे गेम जोनों को बंद करने का आदेश दिया। राज्य सरकार की ओर से मृतक के परिवारों को चार लाख और घायलों को 50,000 रुपये के मुआवजे की घोषणा की गई। मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल कुछ ही देर में गांधीनगर से राजकोट के लिए रवाना होंगे। वह रात को 2 बजे पीड़ितों से मुलाकात करेंगे और अधिकारियों के साथ बैठक कर घायलों का हाल-चाल जानेंगे। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष शक्तिसिंह गोहिल ने कहा, "बड़ी दुखदायी घटना घटी, राजकोट के गेम जोन में आग लगने के बाद वहां अफरा-तफरी का माहौल हो गया। इस हादसे में 26 लोगों की जान चली गई।

धुएं का गुबार करीब एक किलोमीटर तक उठते हुए दिखाई दिए। हाईकोर्ट के बार बार कहने के बाद भी फयर सेफ़्टी के लिए बीजेपी सरकार कदम नहीं उठाती है। भाजपा सरकार भय मुक्त भ्रष्टाचार कर रही है। पता नहीं, बार-बार इस तरह के हादसे क्‍यों हो रहे हैं। कानून को ताक पर रखकर हप्ता वसूली होती है और लोगों की जान की सुरक्षा की चिंता किए बिना ही भाजपा के शासन में सब चलता है।" मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने राजकोट गेम जोन दुर्घटना के बाद राज्य के सभी जिलाधिकारी, एसपी और पुलिस कमिश्‍नर को गुजरात के सभी गेम जोन बंद करने के आदेश दिए हैं। उन्‍होंने कहा कि आदेश का पालन राज्य की सभी महानगरपालिका नगर पालिका, फायर ऑफिसर लोकल एडमिनिस्ट्रेशन और पुलिस को साथ मिलकर करना होगा। सूत्रों ने बताया कि राज्‍य के गृह राज्यमंत्री हर्ष संघवी रात 2 बजे घटनास्थल पर पहुचेंगे।



BharatUpdateNews.Com पर देश की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. राष्ट्रीय और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

(Follow Bharat Update on GOOGLE NEWS and never miss an update!)

Bharat Update Follow Bharat Update for breaking news and latest stories.