एक चूक के कारण मध्य प्रदेश में रामनिवास रावत को दो बार दिलानी पड़ी मंत्री पद की शपथ

मध्य प्रदेश के डॉ. मोहन यादव मंत्रिमंडल के नए सदस्य के तौर पर शपथ लेने वाले रामनिवास रावत की एक चूक के चलते उन्हें दो बार शपथ लेनी पड़ी। राजभवन में सोमवार की सुबह शपथ ग्रहण समारोह आयोजित किया गया था। इस समारोह में नए मंत्री के तौर पर रामनिवास रावत को शपथ दिलाई गई।शपथ के दौरान रामनिवास रावत से एक चूक हो गई, उन्हें शपथ के दौरान कहना था राज्य के मंत्री के तौर पर मगर उन्होंने कहा राज्य मंत्री के तौर पर।शपथ ग्रहण पूरा हो गया, मगर यह बात जब सामने आई तो दोबारा शपथ का कार्यक्रम किया गया।सामने आया वीडियो यह बता रहा है कि राजभवन में अलग से आयोजित इस समारोह में रामनिवास रावत ने राज्य के मंत्री के तौर पर अर्थात कैबिनेट मंत्री की शपथ ली।इस मौके पर राज्य के मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा सहित कई मंत्री मौजूद रहे।रामनिवास रावत से भी जब संवाददाताओं ने सवाल किया तो उन्होंने कहा कि जो भूल हो चुकी थी, उसे सुधार लिया गया है।राज्य विधानसभा के सदस्यों की संख्या के आधार पर मंत्रिमंडल के सदस्यों के लिए निर्धारित संख्या 34 है। मुख्यमंत्री सहित कुल 31 मंत्री थे और अब संख्या बढ़कर 32 हो गई है।लोकसभा चुनाव और उससे पहले कांग्रेस के तीन विधायकों ने भाजपा का दामन थामा था। इनमें से एक छिंदवाड़ा के अमरवाड़ा विधानसभा क्षेत्र से विधायक रहे कमलेश शाह भी हैं, जहां 10 जुलाई को उपचुनाव होना है।इसके अलावा विजयपुर से विधायक रामनिवास रावत और बीना से विधायक निर्मला सप्रे ने भी भाजपा की सदस्यता ली थी। कांग्रेस छोड़कर भाजपा में आए इन तीन सदस्यों में से एक को मोहन यादव मंत्रिमंडल में शामिल कर लिया गया है। अब मंत्रिमंडल में दो पद ही रिक्त रह गए हैं।--आईएएनएसएसएनपी/एसकेपी

Jul 8, 2024 - 12:49
एक चूक के कारण मध्य प्रदेश में रामनिवास रावत को दो बार दिलानी पड़ी मंत्री पद की शपथ
एक चूक के कारण मध्य प्रदेश में रामनिवास रावत को दो बार दिलानी पड़ी मंत्री पद की शपथ

भोपाल : मध्य प्रदेश के डॉ. मोहन यादव मंत्रिमंडल के नए सदस्य के तौर पर शपथ लेने वाले रामनिवास रावत की एक चूक के चलते उन्हें दो बार शपथ लेनी पड़ी।

राजभवन में सोमवार की सुबह शपथ ग्रहण समारोह आयोजित किया गया था। इस समारोह में नए मंत्री के तौर पर रामनिवास रावत को शपथ दिलाई गई।

शपथ के दौरान रामनिवास रावत से एक चूक हो गई, उन्हें शपथ के दौरान कहना था राज्य के मंत्री के तौर पर मगर उन्होंने कहा राज्य मंत्री के तौर पर।

शपथ ग्रहण पूरा हो गया, मगर यह बात जब सामने आई तो दोबारा शपथ का कार्यक्रम किया गया।

सामने आया वीडियो यह बता रहा है कि राजभवन में अलग से आयोजित इस समारोह में रामनिवास रावत ने राज्य के मंत्री के तौर पर अर्थात कैबिनेट मंत्री की शपथ ली।

इस मौके पर राज्य के मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा सहित कई मंत्री मौजूद रहे।

रामनिवास रावत से भी जब संवाददाताओं ने सवाल किया तो उन्होंने कहा कि जो भूल हो चुकी थी, उसे सुधार लिया गया है।

राज्य विधानसभा के सदस्यों की संख्या के आधार पर मंत्रिमंडल के सदस्यों के लिए निर्धारित संख्या 34 है। मुख्यमंत्री सहित कुल 31 मंत्री थे और अब संख्या बढ़कर 32 हो गई है।

लोकसभा चुनाव और उससे पहले कांग्रेस के तीन विधायकों ने भाजपा का दामन थामा था। इनमें से एक छिंदवाड़ा के अमरवाड़ा विधानसभा क्षेत्र से विधायक रहे कमलेश शाह भी हैं, जहां 10 जुलाई को उपचुनाव होना है।

इसके अलावा विजयपुर से विधायक रामनिवास रावत और बीना से विधायक निर्मला सप्रे ने भी भाजपा की सदस्यता ली थी। कांग्रेस छोड़कर भाजपा में आए इन तीन सदस्यों में से एक को मोहन यादव मंत्रिमंडल में शामिल कर लिया गया है। अब मंत्रिमंडल में दो पद ही रिक्त रह गए हैं।



BharatUpdateNews.Com पर देश की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. राष्ट्रीय और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

(Follow Bharat Update on GOOGLE NEWS and never miss an update!)

IANS डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ भारत अपडेट टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.